Indian Railways News

पश्चिम रेलवे के वैतरणा और सैफाले स्टेशनों के बीच ब्लॉक के दौरान पूर्ण हुए कई उल्लेखनीय कार्य

आरसीसी स्लैब को लॉंच करने तथा रेल पथ पर संरक्षा को अधिक बेहतर बनाने के क्रम में लकड़ी के स्लीपरों के बदलाव हेतु रविवार 4 फरवरी, 2018 को वैतरणा एवं सैफाले स्टेशनों के बीच अप लाइन की पुल संख्या 99 पर तीन घंटे 30 मिनट का ब्लॉक लिया गया था। कार्य को सफलतापूर्वक पूर्ण करने के पश्चात ब्लॉक क्लीयर कर दिया गयापरन्तु उल्लेखनीय है कि पश्चिम रेलवे के मुंबई मंडल द्वारा इसी ब्लॉक अवधि में निकटवर्ती खंडों पर भी विविध कार्य पूरे किये गये।

पश्चिम रेलवे द्वारा इसी ब्लॉक अवधि में कुछ अन्य कार्य जैसे घोलवड – उमरगाम खंड पर 260 मीटर लम्बी रेल पैनल की अनलोडिंगभिलाड – संजान खंड में बकाया टीआरआर तथा संजान यार्ड में बीसीएम के उपयोग द्वारा प्वॉइंट संख्या 109 की डीप स्क्रीनिंग जैसे कार्य भी किये गये। संरक्षा को अधिक बेहतर बनाने तथा 75 कि.मीप्रति घंटा के अस्थाई गति अवरोध को सामान्य करने के उद्देश्य से अप लाइन पर पुल संख्या 445 पर लकड़ी के स्लीपरों को स्टील चैनेल स्लीपरों के साथ बदला गया। पश्चिम रेलवे ने वैतरणा तथा सैफाले के बीच के रेलवे ट्रैक को लकड़ी के स्लीपरों से पूर्णतः मुक्त कर दिया है। अतः इस व्यस्त रूट पर बिना कोई अतिरिक्त ब्लॉक लिये पश्चिम रेलवे द्वारा अनुरक्षण तथा अपग्रेडेशन के विविध उल्लेखनीय कार्यों काट अंतिम रूप दिया गया।

A block was taken on Sunday, 4th February, 2018 between Vaitarna and Saphale on UP line at Br. 99 for three and half hours to launch RCC slab & to eliminate wooden sleepers and improve safety on the tracks. The block was cleared right after the successful completion but Mumbai Division of Western Railway also carried out multiple tasks in nearby sections in this block alone.

Western Railway simultaneously carried out few other tasks such as unloading of 260m long rail panels at in Gholvad- Umargam section, 520m TRR that was due in Bhilad- Sanjan section also completed in the shadow block and deep screening of point no.109 done using BCM in Sanjan yard. Wooden sleepers replaced with Steel Channel Sleepers on Br. No. 445 UP line improving safety & relaxing TSR of 75kmph to normal. Western Railway made full use of the block between Vaitarna-Saphale and made an UP line from Virar to Surat free of wooden sleepers, thereby completing multiple maintenance & upgradation works simultaneously to avoid need for separate blocks on this busy route.

Post a comment